Sunday, November 17, 2019
Home > आलेख

सांप्र​​दायिक नहीं है भारत ​- ​सुधा राजे

ऐसे लेखक और कवि समय के अपराधी ही बनने जा रहे हैं जो जो एक क्षणिक राजनीतिक अभियान में विरोध के लिये विरोध को चल रही लंबी दशकों पुरानी साजिश का हिस्सा बस केवल स्पर

Read More

ब्लॉग: हिंदू उत्पीड़न पर जागे मानवाधिकार – लोकेन्द्र सिंह

पाकिस्तान,  बांग्लादेश और मलेशिया में रह रहे हिंदुओं पर आई रिपोर्ट बताती है कि कैसे दुनिया के कई हिस्सों में हिंदुओं के साथ दोयम दर्जे का व्यवहार किया जा रहा है। उन्हें सामाजिक, आर्थिक और मानसिक

Read More

कम्युनिस्टों का एजेंडा, सेना को करो बदनाम

भारतीय  सेना सदैव से कम्युनिस्टों के निशाने पर रही है। सेना का अपमान करना और उसकी छवि खराब करना, इनका एक प्रमुख एजेंडा है। यह पहली बार नहीं है, जब एक कम्युनिस्ट लेखक ने भारतीय

Read More

पाकिस्तान को सबक सिखाना ही होगा – सुरेश हिन्दुस्थानी

पाकिस्तान ने एक बार फिर से भारत की कश्मीर घाटी में अपने चरित्र को दोहराया है। बार बार भारतीय सीमा पर हमला कर आतंक फैलाना पाकिस्तान सुधरने की दिशा में जाना ही नहीं चाहता। हालांकि

Read More

ब्लॉग: पत्थरबाजों का समर्थन करने से बाज आएं नेता – लोकेन्द्र सिंह

नई दिल्ली: जब  सेना के जवानों की पिटाई और उनके साथ बदसलूकी का वीडियो सामने आया, तब देश के ज्यादातर लोग खामोश थे। भारत और भारतीय सेना के लिए जिनके मन में सम्मान है, सिर्फ

Read More

सच्चाई को समझें भारतीय मुसलमान – सुरेश हिन्दुस्थानी

भारत के विभाजन के समय कट्टरपंथी मुसलमानों ने जिस प्रकार से पाकिस्तान का निर्माण किया, उसकी प्रतिध्वनि वर्तमान में पाकिस्तान में दिखाई दे रही है। अभी हाल ही में पाकिस्तान में जिस प्रकार से दबाव

Read More

ब्लॉग: ईवीएम प्रकरण – पराजयवादी मानसिकता – लोकेन्द्र सिंह

ईवीएम  में छेड़छाड़ का आरोप लगाकर संवैधानिक संस्था चुनाव आयोग और देश की जनता के अभिमत पर प्रश्न खड़ा कर रहे लोगों को अब उनके ही सहयोगी आईना दिखा रहे हैं। कांग्रेस के तीन बड़े

Read More

पाकिस्तान का एक और झूठ उजागर – सुरेश हिन्दुस्थानी

आतंकवाद को पोषित करने वाले देश के रुप में कुख्यात होने वाला पाकिस्तान सुधरने का नाम नहीं ले रहा। भारत के प्रति दुर्भाव रखने वाले पाकिस्तान की हर कार्यवाही किसी भी प्रकार से भारत पर

Read More

उत्तरप्रदेश : देश की जनता ने राष्ट्रवाद का किया समर्थन

पांच राज्यों के चुनाव परिणाम के बाद जहां कई दलों की होली उल्लासमय हो गई है, वहीं कई दल बेरंग होते हुए भी दिखाई दे रहे हैं। अकेले उत्तरप्रदेश की बात करें तो सपा और

Read More

ब्लॉग: रामजस पर हल्ला, केरल पर चुप्पी क्यों?

रामजस महाविद्यालय प्रकरण से एक बार फिर साबित हो गया कि हमारा तथाकथित बौद्धिक जगत और मीडिया का एक वर्ग भयंकर दोगला है। एक तरफ ये कथित धमकियों पर भी देश में ऐसी बहस खड़ी

Read More