Saturday, August 17, 2019
Home > मध्य प्रदेश > नफरत ने ली मासूम वरुण की जान, मांगी थी रोटी तो दी मौत

नफरत ने ली मासूम वरुण की जान, मांगी थी रोटी तो दी मौत

भोपाल: बैरागढ़ चिचली में नफरत ने मासूम वरुण की जान ले ली. वरुण ने पड़ोस में रहने वाली महिला से रोटी मांगी थी, लेकिन उस महिला ने वरुण को मौत दी. वरुण टंकी में तड़पता रहा और उसकी दम घुटने से दर्दनाक मौत हो गई. घर के सामने उसकी नृशंस हत्या की गई. पुलिस ने आरोपियों को पकड़कर अपनी पीट तो थपथपाई, लेकिन मासूम वरुण को जिंदा बचा नहीं सकी. घर का एकलौता चिराग बुझ गया और अब गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है.

सुनीता सोलंकी, उसके बेटे शुभम को बनाया है आरोपी

वरुण हत्याकांड का खुलासा हो गया है. पुलिस ने पड़ोस में रहने वाली महिला सुनीता सोलंकी और उसके नाबालिग बेटे शुभम को आरोपी बनाया है. सुनीता के देवर महेश सोलंकी जो मामले में संदेही है, उससे भी पूछताछ की जा रही है. डीआईजी ने प्रेस कांफ्रेंस बुलाकर इस हत्याकांड का 48 घंटे में पर्दाफाश करने का दम भरा. प्रेस नोट में पुलिस टीम की तारीफ की और उसे नगद पुरुस्कार देने का ऐलान भी किया. लेकिन सौ पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों की टीम उस घर के एकलौते चिराग को जिंदा ढूंढने में विफल साबित हुई.

सुनीता सोलंकी ने सब्जी में चींटी मारने वाली दवा मिलाकर खिलाई

डीआईजी इरशाद वली ने बताया कि वरुण पड़ोस में रहने वाली सुनीता से खाना मांगा था. सुनीता ने उसे रोटी तो दी, लेकिन वरुण के परिजनों से नफरत की वजह के चलते उसने सब्जी में चींटी मार दवा मिला दी. खाना खाने के बाद वरुण बेहोश हो गया. पुलिस के गांव में आने की वजह से महिला डर गई और उसने एक टंकी में बेहोश वरुण को डाल दिया. पुलिस की हलचल तेज होने पर उसने घटना वाले दिन रविवार की रात को ही उस टंकी से वरुण को निकालकर दूसरी टंकी में डाला और उसपर गेहूं डाल दिया. वरुण की दम घुटने से दर्दनाक मौत हो गई.

पुलिस पूछताछ में आरोपी महिला ने बताया कि जून महीने में उसके घर से जेवर और नगदी चोरी हुई थी. उसे चोरी का शक वरुण के परिजनों पर था. यही वजह बताई जा रही है कि सुनीता वरुण के परिजन से नफरत करती थी. इसी नफरत के चलते उसने वरुण को मौत के घाट उतार दिया. मंगलवार की सुबह उसने वरुण के शव को घर से लगे बंद घर में जलाया. शुभम को इसलिए आरोपी बनाया गया, क्योंकि उसे रविवार को ही मां के द्वारा की गई घटना के बारे में पता चल गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)