Tuesday, May 21, 2019
Home > Recent > IPL: धोनी की टीम को पछाड़ दिल्ली बनी नंबर 1, राजस्थान पर बाहर होने का खतरा

IPL: धोनी की टीम को पछाड़ दिल्ली बनी नंबर 1, राजस्थान पर बाहर होने का खतरा

जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में सोमवार को खेले गए आईपीएल के मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स ने राजस्थान रॉयल्स को 6 विकेट से हरा दिया. इस जीत के साथ ही दिल्ली की टीम आईपीएल के प्वाइंट टेबल में 14 अंको के साथ नंबर एक पर पहुंच गई है. वहीं, 7 हार के बाद राजस्थान पर आईपीएल के मौजूदा सीजन से बाहर होने का खतरा मडराने लगा है.

दिल्ली की 11 मैचों में यह 7वीं जीत है और अब वह 14 अंकों के साथ आईपीएल के प्वाइंट टेबल में टॉप पर पहुंच गई है. दिल्ली 2012 के बाद से पहली बार लीग में शीर्ष स्थान पर पहुंची है. वहीं, राजस्थान को 10 मैचों में 7वीं हार का सामना करना पड़ा है और टीम 6 अंकों के साथ 7वें नंबर पर है.

राजस्थान के खिलाफ ऋषभ पंत ने 78 रनों की धमाकेदार पारी खेली और अंतिम ओवर में छक्का लगाकर जीत टीम के झोली में डाल दी. पंत के इस छक्के के साथ ही टीम ने न केवल मैच जीता बल्कि प्वाइंट टेबल में उलटफेर करते हुए नंबर एक पर काबिज हो गई.

index_042319121315.jfif

दिल्ली ने 11 मैचों में से 7 में जीत हासिल की है और इसी के साथ उसके 14 अंक हो गए हैं. वहीं प्वाइंट टेबल में दूसरे नंबर पर काबिज चेन्नई सुपर किंग्स की टीम के भी 14 अंक हैं. लेकिन दिल्ली का नेट रन रेट (+0.181) चेन्नई (+0.087) से ज्यादा है, यही कारण है कि उसने चेन्नई को प्वाइंट में एक पायदान नीच खिसका दिया है.

वहीं, राजस्थान रॉयल्स की टीम 7 हार के बाद प्वाइंट टेबल में 7वें स्थान पर है. प्वाइंट टेबल में राजस्थान 7वें स्थान पर और बेंगलुरु 8वें स्थान पर है. दोनों टीमों के 6-6 अंक हैं. लेकिन नेट रन रेट के मामले में राजस्थान की हालत बेंगलुरु से बेहतर है इसलिए वो बेंगलुरु से एक पायदान ऊपर है.

इसके बावजूद राजस्थान पर आईपीएल के मौजूदा सीजन से बाहर होने का खतरा मडरा रहा है. क्योंकि, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की टीम फॉर्म में है, बेंगलुरु की टीम पिछले दो मैचों में जीत हासिल कर चुकी है. वहीं, सोमवार को दिल्ली के हाथों मिली हार के बाद राजस्थान की टीम का मनोबल टूटा है.

हालांकि, बाकी बचे मैचों में राजस्थान की टीम जीत जाती है और उसके नेट रन रेट बेहतर होते हैं तो उसके लिए प्लेऑफ का रास्ता बन सकता है. इतिहास में देखें तो 2010 में बेंगलुरु की टीम 7 मैच जीतकर प्लेऑफ में पहुंचने में कामयाब रही थी.

बता दें कि प्वाइंट टेबल में 14 अंक हासिल करने के बाद प्लेऑफ में जगह बनाने वाली टीमों में कई नाम शामिल हैं. 2018 में राजस्थान रॉयल्स, 2014 में मुंबई इंडियंस, 2010 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु और चेन्नई सुपर किंग्स और 2009 में डेक्कन चार्जर्स की टीम यह कारनामा करने में सफल रही थी. ऐसे में राजस्थान ने लय पकड़ा तो उसके प्लेऑफ में पहुंचने की संभावना बन सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)