Monday, July 22, 2019
Home > अन्य बड़ी खबरें > खौफ में है पाकिस्तान, महमूद कुरैशी बोले- 16 से 20 अप्रैल के बीच हो सकता है एक और हमला

खौफ में है पाकिस्तान, महमूद कुरैशी बोले- 16 से 20 अप्रैल के बीच हो सकता है एक और हमला

इस्लामाबाद: एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने रविवार को दावा किया कि उनकी सरकार के पास विश्वसनीय खुफिया जानकारी है कि भारत की योजना 16 से 20 अप्रैल के बीच देश पर एक और हमले की है. कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद के एक आत्मघाती हमले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है. उस हमले सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. बढ़ते आक्रोश के बीच, भारतीय वायुसेना ने आतंकवाद-रोधी अभियान के तहत 26 फरवरी को पाकिस्तान के अंदर बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर को निशाना बनाया.

डॉन अखबार के अनुसार मुल्तान में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कुरैशी ने कहा कि सरकार के पास ‘‘विश्वसनीय खुफिया जानकारी है कि भारत एक नई योजना बना रहा है.’’ अखबार ने कुरैशी के हवाले से कहा कि तैयारियां की जा रही हैं, और पाकिस्तान के खिलाफ एक और हमले के आसार हैं.

हमारी जानकारी के अनुसार, 16 से 20 अप्रैल के बीच कार्रवाई हो सकती है. उन्होंने कहा कि एक नए हादसा ताना-बाना रचा जा सकता है और इसका मकसद पाकिस्तान के खिलाफ उनके कार्रवाई को सही ठहराना तथा इस्लामाबाद के खिलाफ राजनयिक दबाव बढ़ाना होगा.

जैश-ए-मोहम्‍मद ने जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में आतंकी हमला अंजाम दिया था
बता दें कि 14 फरवरी को पाकिस्‍तान समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद ने जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में आतंकी हमला अंजाम दिया था. इसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे. इसके बाद भारतीय वायुसेना ने 12 मिराज लड़ाकू विमान के जरिये 26 फरवरी की अलसुबह पीओके में घुसकर जैश के आतंकी ठिकानों को तबाह किया था.

पाकिस्‍तान ने भी भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों के पीओके में घुसने की बात कुबूली थी. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने भी ट्वीट कर भारतीय एयरफोर्स के LOC क्रॉस करने की बात कबूल की थी. हालांकि पाकिस्तान ने तबाही पर चुप्पी साध ली थी.

भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा था कि पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर पाकिस्‍तान समर्थित जैश-ए-मोहम्‍मद की ओर से किए गए आतंकी हमले से नाराज भारत की तरफ से PoK में जैश के प्रमुख ठिकाने पर कार्रवाई की गई थी. इस्लामाबाद: एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने रविवार को दावा किया कि उनकी सरकार के पास विश्वसनीय खुफिया जानकारी है कि भारत की योजना 16 से 20 अप्रैल के बीच देश पर एक और हमले की है. कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद के एक आत्मघाती हमले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है. उस हमले सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. बढ़ते आक्रोश के बीच, भारतीय वायुसेना ने आतंकवाद-रोधी अभियान के तहत 26 फरवरी को पाकिस्तान के अंदर बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर को निशाना बनाया.

डॉन अखबार के अनुसार मुल्तान में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कुरैशी ने कहा कि सरकार के पास ‘‘विश्वसनीय खुफिया जानकारी है कि भारत एक नई योजना बना रहा है.’’ अखबार ने कुरैशी के हवाले से कहा कि तैयारियां की जा रही हैं, और पाकिस्तान के खिलाफ एक और हमले के आसार हैं.

हमारी जानकारी के अनुसार, 16 से 20 अप्रैल के बीच कार्रवाई हो सकती है. उन्होंने कहा कि एक नए हादसा ताना-बाना रचा जा सकता है और इसका मकसद पाकिस्तान के खिलाफ उनके कार्रवाई को सही ठहराना तथा इस्लामाबाद के खिलाफ राजनयिक दबाव बढ़ाना होगा.

जैश-ए-मोहम्‍मद ने जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में आतंकी हमला अंजाम दिया था
बता दें कि 14 फरवरी को पाकिस्‍तान समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद ने जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में आतंकी हमला अंजाम दिया था. इसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे. इसके बाद भारतीय वायुसेना ने 12 मिराज लड़ाकू विमान के जरिये 26 फरवरी की अलसुबह पीओके में घुसकर जैश के आतंकी ठिकानों को तबाह किया था.

पाकिस्‍तान ने भी भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों के पीओके में घुसने की बात कुबूली थी. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने भी ट्वीट कर भारतीय एयरफोर्स के LOC क्रॉस करने की बात कबूल की थी. हालांकि पाकिस्तान ने तबाही पर चुप्पी साध ली थी.

भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा था कि पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर पाकिस्‍तान समर्थित जैश-ए-मोहम्‍मद की ओर से किए गए आतंकी हमले से नाराज भारत की तरफ से PoK में जैश के प्रमुख ठिकाने पर कार्रवाई की गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)