Thursday, April 25, 2019
Home > Recent > सावधान! 31 मार्च तक भरें ITR, इन 5 जगहों पर निवेश कर बचाएं टैक्स

सावधान! 31 मार्च तक भरें ITR, इन 5 जगहों पर निवेश कर बचाएं टैक्स

नई दिल्ली: अगर आपने अभी तक वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए आयकर रिटर्न नहीं भरा है तो 31 मार्च तक अंतिम मौका है. इसके बाद 1 अप्रैल से आयकर विभाग कार्रवाई करेगा. दरअसल वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए रिटर्न भरने की अंतिम तारीख 31 जुलाई 2018 थी, जिसके बाद आयकर विभाग ने फाइन के साथ रिटर्न भरने की अंतिम तारीख बढ़ाकर 31 मार्च 2019 कर दी. रिटर्न नहीं भरने पर बैंक लोन, वीजा समेत तमाम बैंकिंग सेवाओं में दिक्कतें आती हैं.

वहीं अगर अभी तक आपने इनकम टैक्‍स बचाने के लिए कहीं निवेश नहीं किया है तो अब आपके पास गिनती के दिन बचे हैं. इसलिए टैक्स बचाने के लिए आखिरी समय में ऐसी जगह निवेश करें, जहां गारंटीड रिटर्न के साथ-साथ टैक्स सेविंग का ऑप्शन भी हो. हम आपके के लिए ऐसे 5 विकल्प लेकर आए हैं.

फिक्‍स्‍ड डिपोजिट
आप किसी भी बैंक में फिक्‍स्‍ड डिपोजिट करके आयकर छूट का फायदा उठा सकते हैं. मौजूदा समय में बैंक में फिक्‍स्‍ड डिपोजिट पर सालाना अधिकतम 8.25 फीसदी तक ब्याज दर मिल जाती है. इसमें धारा 80सी के तहत 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर डिडक्‍शन का फायदा मिल जाता है. वहीं बैंक में FD एक सुरक्षित निवेश है और रिटर्न की गारंटी भी होती है.

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट
नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC) 8.0 फीसदी वार्षिक की दर से ब्याज देता है. सेक्शन 80C के तहत आप एनएससी में निवेश कर 1.5 लाख रुपये तक की टैक्स कटौती का लाभ उठा सकते हैं. इसमें निवेश की राशि की सीमा तय नहीं है, लेकिन डिडक्‍शन का फायदा सिर्फ 1.5 लाख रुपये तक के ही निवेश पर मिलेगा. सरकार हर तीन महीने में इसके ब्‍याज दर में बदलाव कर सकती है.

सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम
सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम (SSSS) में वरिष्ठ नागरिक और समय से पहले रिटायर्ड लोगों के लिए स्कीम है, जिस पर 8.7 फीसदी वार्षिक ब्याज दर निर्धारित है. ब्याज दर हर तिमाही में निर्धारित की जाती है. इस स्कीम की लॉक-इन अवधि 5 वर्ष है. सेक्शन 80C के तहत इसमें 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर आयकर छूट की सुविधा है. हालांकि अधिकतम निवेश 15 लाख रुपये कर सकते हैं. लेकिन धारा 80सी के तहत सिर्फ डेढ़ लाख रुपये तक ही डिडक्‍शन का लाभ मिलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)